Home / Tag Archives: उसने तेज आह भरी- आःह्हाआआ हाय यार… काश मैं वहाँ होता… क्या चिकनी जांघें हैं। सलोनी बराबर में बैठी नलिनी भाभी से झुककर कुछ बात कर रही थी तो उनके चूतड़ एक ओर से बाहर को निकले हुए थे।

Tag Archives: उसने तेज आह भरी- आःह्हाआआ हाय यार… काश मैं वहाँ होता… क्या चिकनी जांघें हैं। सलोनी बराबर में बैठी नलिनी भाभी से झुककर कुछ बात कर रही थी तो उनके चूतड़ एक ओर से बाहर को निकले हुए थे।

मेरी चालू बीवी-101

Meri Chalu Biwi-101 सम्पादक – इमरान मेरी कहानी का पिछला भाग :  मेरी चालू बीवी-100 और तभी मैंने सोचा मैं भी क्या सोचने लगा, ये तो साले कमीने होंगे ही, आखिर अरविन्द और मेहता अंकल जैसों के दोस्त हैं जिन्होंने अपनी बेटी को भी नहीं छोड़ा। तभी उस लड़की ने डांस …

Read More »