Home / चुदाई की कहानी / मेरी रशियन बीवी दो लंडों से खेली-2

मेरी रशियन बीवी दो लंडों से खेली-2

Meri Russian Biwi Do Lundon Se Kheli-2

मेरी सेक्स कहानी के पहले भाग

मेरी रशियन बीवी दो लंडों से खेली-1

में आपने पढ़ा कि कैसे मेरी रूसी गोरी नाजुक सी बीवी एक गोरे और एक काले लंड के साथ खेल रही है.
अब आगे पढ़ें:

इसके बाद किड जमैका ने मशहूर छेद को अपना निशाना बनाया और कमरे में प्रसिद्ध हो चुकी चप-चप की ध्वनि के साथ उसका मुंह चोदना शुरू कर दिया. ओमार भी नजदीक आ गया और अपने लंड के टोपे से मेरी पत्नी के किड का लंड चूसते मुंह को टहोकना शुरू कर दिया.
नताशा ने आज्ञाकारी बालक की भांति किड का लंड बाहर निकाल कर ओमार का लंड मुंह में लेना चाहा तो ओमार ने उसे रोकते हुए कहा- नहीं… दोनों को ले लो अन्दर!
नताशा की आँखें फ़ैल गई और वो किड के लंड को वापस मुंह में लेकर ओमार के अगले एक्शन का इंतजार करने लगी.

ओमार धीरे धीरे उसके होठों के बीच जगह बना कर अपने माँसल टोपे को पहले से ही भरे हुए मुंह में घुसेड़ने का यत्न करने लगा. होठों के बीच थोड़ी जगह बनाते हुए ओमार ने अपना टोपा नताशा के मुंह में घुसेड़ दिया और मेरी आज्ञाकारी पत्नी अपनी आँखें फाड़े श्याम श्वेत लौड़ों को, या सच कहें तो टोपों को चूसने लगी.
जोर जोर से कराहते हुए मेरी पतिव्रता पत्नी बिना किसी थकावट के अपनी बारीक़, मीठी आवाज में कराहते हुए दोनों मोटे भसंड लंडों को चाटने में लगी थी, तब ओमार ने पूरे लंड अन्दर ना जा पाने की झल्लाहट में लंड बाहर निकाल, सोफे पर लेटते हुए मेरी धर्मपत्नी की चूत को अपने लंड के ऊपर टिका कर उसे अपने ऊपर कूदने का हुक्म दिया!

गोरी रण्डी हुक्म की तामील करते हुए अपनी चूत को ओमार के खड़े हुए लंड पर पटकने लगी. नीचे खड़े किड ने बिना ज्यादा सोचे अपनी जीभ मेरी क़ानूनी पत्नी के मुंह में घुसेड़ दी, जिसे गोरी वेश्या लपालप चाटने लगी.
थोड़ी देर जीभ चुसाई करवाने के बाद किड ने दोबारा अपना खड़ा हुआ बैंगन जैसा लंड नताशा की मुंह रूपी सुरंग में घुसेड़ दिया, जिसे वो जोर जोर से कराहते हुए चूसने लगी.

तभी ओमार को गोल छेद की याद आई और वो आसानी के साथ उस पर शिफ्ट हो गया.
क्या शानदार नजारा था… मेरी निष्ठावान, धार्मिक पत्नी अपनी गुलाबी गांड के गोल छेद में गोरा, हैम जैसा विशाल लंड लिए बैठी थी और उसकी नाक के ठीक नीचे, उसके सबसे बड़े छेद में काला, चिकना केले का तना सटासट अन्दर घुस रहा था!

मेरी जानेमन ने कुछ पलों के लिए थोड़ी साँस ली और फिर कल्लू ने दोबारा अपना हथौड़ा उसकी नाक के नीचे घुसेड़ दिया! इस बार वो ज्यादा रगड़ कर चोदने में लग गया और इस वजह से कुछ धक्कों के बाद ही नताशा थक गई. नताशा ओमार के लंड को अपनी गांड में डलवाए, थोड़ा आराम करने की खातिर बैठ गई, किड जमैका नताशा की गांड में से बिना ओमार का लंड बाहर निकलवाए, उसकी टांगों से पहनी हुई स्टॉक्स बाहर निकलने लगा. किड जमैका ने उसकी स्टॉकिंग्स पैरों से निकाल कर एक तरफ उछाल दीं.

अब मेरी पतिव्रता पत्नी ओमार के मोटे लंड को अपनी तंग गांड में लेने और वासना के खेल को और मजेदार बनाने के लिए और अधिक स्वतन्त्र हो गई थी. इसी के साथ उसका छोटा सा मुंह भी अब अधिक खुलना शुरू हो गया, जिसके फलस्वरूप जमैका अपने काले सर्प को उसके गले तक अन्दर घुसेड़ना चालू हो गया था.
लेकिन कुछ धक्कों में ही मेरी बीवी नताशा का दम घुटने लगा और किड को अनमना होकर अपना लंड बाहर निकालना पड़ा.

लेकिन दो सेकंड का विश्राम देने के बाद दोबारा लंड को मेरी पत्नी के मुंह में घुसेड़ कर चुदाई करने लगा लेकिन इस बार धीरे धीरे… इस इंटरवल के दौरान मेरी धर्मपत्नी को भी थोड़ा ऊपर सरक आने का मौका मिल गया था और इसकी वजह से अब ओमार को खासी जगह मिलने के कारण वो लहरा लहरा कर गांड में धक्के मारने लग गया.

लेकिन वास्तव में तो आज का दिन सफ़ेद पत्नी के मुंह में दो मोटे लंडों का दिन था!
थोड़ा विश्राम कर चुकने के बाद दोनों मर्द अपने स्थान बदल चुके थे और जमैका ने मेरी पत्नी को अपने लंड पर गांड रखते हुए बैठा दिया. किड का लंड अब बहुत सख्त हो चुका था, जिसके फलस्वरूप वो किसी खंजर की तरह मेरी अर्धांगिनी की गांड में घुस गया.

कुछ समय तो नताशा को धारदार चाकू को अपने मलद्वार में घुसवाने में काफी मुश्किल हुई लेकिन फिर वो अभ्यस्त हो गई और फिर कुछ देर बाद वो खुद ही अफ्रीकन लंड पर कूदना चालू हो गई.
अब ओमार अत्यधिक उत्तेजित हो तेज आवाज में सिसकियाँ भरते हुए धीरे धीरे अपने टोपे को मेरी पत्नी के मुंह में धकेल रहा था और उसी समय किड ने मेरी गुड़िया के सैंडल उतारने चालू कर दिए.
उधर ओमार किसी सांड की तरह हुंकारता हुआ अपना सख्त मांस रुसी लड़की का सिर पकड़ कर उसके मुंह में धकेल रहा था. जब मेरी नताशा ने उसके टोपे को खूब अच्छी तरह धार दे दी, तो उसने अपने अण्डों को इकठ्ठा कर हाथ में जकड़ते हुए उसके मुंह में धकेल दिया, जिसे सुन्दर लड़की अपनी गुदगुदी जीभ द्वारा चाटने को मजबूर थी.

एक हाथ से उसके बालों को जकड़े दांत पीसता हुआ ओमार लड़की को नॉनस्टॉप चुसाई के लिए कहता जा रहा था.
‘अति उत्तेजित’ ओमार उससे कहने लगा- तेरे मुंह को आज रेस्ट नहीं मिलने वाला! ले ले ले ले ले और ले… और भरपूर धक्कों के साथ अपना मोटा लंड उसके मुंह में घुसेड़ने लगा.

दो मिनट पश्चात् वो सोफे से नीचे उतर आया और चुदाई में मशगूल जोड़े के दायीं ओर से चक्कर लगा कर मेरी अर्धांगिनी के सामने आ गया और उसकी खुली चूत के क्लीटर को छूने लगा. एक हाथ से उसके दूध जैसे धवल उरोजों को सहलाता हुआ, दूसरे हाथ से उसकी क्लिट को मसलने लगा, जबकि किड इस समय आराम से मीठी गोरी लड़की की गांड को पेलने में लगा हुआ था. नताशा की क्लिट को मसलते मसलते ओमार इतना अधीर हो उठा कि उसने मेरी पत्नी को अपने ऊपर लेटा कर नीचे से उसकी चूत मारते हुए उसके होठों को चूमना शुरू कर दिया:

“आह.. तुम कितनी शानदार हो, कितनी सुन्दर! तुम बस ऐसे ही चुदती रहो.. खूब चुदो, सबसे चुदो! मैं तुम्हारा दूसरा पति बनना चाहता हूँ! और मैं चाहता हूँ कि मेरी आँखों के सामने तुम्हें सब चोदें! मैं चाहता हूँ कि तुम दो लंडों को एक साथ अपने मुंह में लेकर चूसो!!”

तब तक जमैका भी नजदीक पहुँच कर पीछे से अपने लंड को नताशा की गांड में घुसेड़ धक्के मारने लग गया था. डबल पेनीट्रेशन की उत्तेजना में मेरी पत्नी जोर जोर से चीखने लग गई और पीछे से गांड मारते हुए किड से जोर से धक्के लगाने की प्रार्थना करने लगी.
किड अपना पूरा लंड बाहर निकाल कर मेरी जीवनसंगिनी की गांड में धकेलना शुरू हो गया. भयंकर धक्के लगाने की वजह से किड थोड़ी देर में थक कर निढाल हो सोफे पर जा बैठा जबकि उसकी जगह फ़ौरन ओमार ने ले ली.

गोरी सहेली ने ओमार के गोरे लंड पर अपनी गांड को झुलाते हुए सोफे पर बैठ चुके किड को पूरी लम्बाई में चूसते हुए अपनी गुलाबी जीभ से चाटना शुरू कर दिया. भयंकर चुदाई के बाद गांड से बाहर निकला किड का काला लंड विकराल रूप ले चुका था और अब नताशा के सफ़ेद थूक से सना चमक मार रहा था.

मेरी बेचारी प्राणप्रिया पत्नी के चूतड़ किड के लगातार चपत मारते रहने के कारण लाल हो चले थे, जिन पर किड अभी तक उकड़ू हुआ लंड द्वारा मुख चोदन करता हुआ लगातार चपत जमाए जा रहा था. मेरी पत्नी की हालत बहुत ख़राब हो चली थी लेकिन दोनों चोदू बिना रुके उसे चोदने में लगे हुए थे.

लड़कों ने इस बार हद कर दी थी, और किड ने तो अब नाता की गर्दन पकड़ कर उसके मुंह में लंड को गर्दन तक धकेलना शुरू कर दिया था. नीचे लेटे हुए ओमार का लंड जब एक बार फिसल कर गांड को निशाना बनाने से चूका तो सामने बैठे किड ने इस बात की सजा भी नताशा को उसके चूतड़ों पर पांच चपत लगाते हुए दे डाली और फिर अपने लंड को उसके मुंह से बाहर निकाल कर उसके मोटे माँसल टोपे द्वारा पांच बार उसके गालों पर भी चपत रसीद कर दी.

मेरी गरीब पत्नी अब चारों तरफ की पिटाई से दर्द सहते हुए चिल्लाने लगी थी लेकिन दोनों आतंकियों से दूर भी हटना नहीं चाह रही थी!

कुछ देर बाद जमैका उठ गया पर ओमार ने मेरी रूसी पत्नी की मीठी गांड को चोदना जारी रखा. सिर्फ मेरी प्रियतमा ने अपनी पोजीशन थोड़ी बदल दी थी, और अब वो सोफे पर कमर के बल लेटी हुई थी और ओमार ने बिना अपना लंड बाहर निकाले मुफ्त की रण्डी को १८०° पर घुमाते हुए कमर के बल लिटा दिया था, और अपने लंड को उसकी गांड में घुसाना जारी रखे था.

अब वो जोर जोर से हांफता हुआ मेरी धर्मपत्नी की गांड मारने लगा था, जमैका बगल से आकर सोफे की हत्थी पर टेक लगा लंड को सुन्दरी के मुंह में घुसेड़ने लगा. दोनों लडको के लंड लोहा लाट हो, तोप की तरह सलामी देते हुए खड़े थे, जब ओमार ने अपना लंड बाहर निकाल नताशा के चूतड़ों को ऊपर उठाते हुए उसकी भक्काड़ा चूत और गांड का प्रदर्शन किया. नताशा ने जरा भी नाराज हुए बिना हँसते हुए उसकी इस प्रक्रिया को अपने चूतड़ ऊपर की ओर उभारते हुए अपना पूरा समर्थन दिया और अपने गांड के छेद को काफी खोल दिया.

जमैका ने नजदीक आकर उसके गांड के छेद के ऊपर काफी सारा थूक गिरा दिया और ओमार ने मेरी भार्या को कमर के बल लेटाते हुए उसके जमैका के थूक से तर गांड के छेद को अपने लंड से भर दिया.
बेगाने थूक में भीगा हुआ ओमार का लंड तेज गति से मेरी पतिव्रता पत्नी की गांड को चोदने लगा. गांड मारते मारते लंड को चूत में घुसेड़ देना और फिर गांड में घुसा देना.. इतना शानदार था! जन्नत!!
और मेरी मेहनती बीवी भी पूरे मनोयोग से दोनों पार्टनर्स का पूरा साथ दे रही थी. मुझे हर बार इतना आश्चर्य होता है यह देख कर कि रोजमर्या के जीवन में इतनी कोमल, नाजुक लड़की, जिसके लिए पानी का भगोना उठाना, या सोफा चेयर खिसकाना भी बहुत मुश्किल का काम है, कितनी पारंगता के साथ विकराल लंडों को अपने शरीर में घुसवा लेती है!

इस समय वो अपनी कलाई जितनी मोटाई वाले दो दो लंडों से अपने सारे छेद फोड़वाए जा रही थी! मैं उसे इस समय ओमार के मोटे-खूब लम्बे लंड पर कूदता देखते हुए गर्व से भर उठा!

“आआआआह.. तुम अपने ब्लैक हैमर को मेरी पिंक पुसी में नहीं घुसेड़ना चाहोगे?” उसी पोज़ में ओमार के लंड को गांड में लिए बैठे हुए, नताशा ने जमैका को अपनी चूत में घुसने के लिए आमंत्रित किया.
नीग्रो ने नताशा को बिना इंतजार करवाए उसकी कामना को पूरा कर दिया, बल्कि इससे भी कहीं ज्यादा.. उसने लंड को चूत में घुसेड़ने के साथ अपने अंगूठे को भी उसके मुंह में दे दिया, जिसे मेरी पत्नी अपनी गुलाबी जीभ से चुभलाने में लग गई.
इसके बाद वो नताशा के गले में पड़े गुलाबी रंग के मखमली स्कार्फ को पकड़ कर उसके गर्भाशय में अपने लंड को घुमाने लगा, और दोबारा अपना अंगूठा उसके मुंह में घुसेड़ दिया.

अचानक उसका लंड चूत से बाहर निकल कर फिसल गया और गांड मारते ओमार के लंड से जा टकराया, तो उसने अपने दाएं हाथ से पोजीशन ठीक कर दोबारा उसे चूत रानी से मिलवा दिया. कुछ देर चूत गांड चुदाई करने के बाद तिगड़ी सुस्ताने के लिए रुकी, तो जमैका का काला लंड नताशा की चूत द्वारा छोड़े गए सफ़ेद पानी से सना हुआ चमचमा रहा था.
इस दौरान ओमार ने अपनी पोजीशन चेंज कर ली, और वो नताशा की चूत मारने लगा, और जमैका ने अपना चमचमाता हुआ लंड मेरी भार्या के मुंह में डाल दिया. अपनी मीठी लार से लंड को तर करने के बाद शानदार रूसी गुड़िया उसे अपने हाथ से पकड़ अपनी चुचियों पर चपत लगाने लगी, जिसके बाद उत्तेजित हुए जमैका ने मेरी सुन्दरी को ओमार के लंड से उठा कर सोफे पर कुतिया बनाते हुए खड़ा कर दिया और ओमार सोफे से कमर टिकाए हुए लंड को रूसी वाइफ के मुंह में डाल हिलाने लगा और जमैका पीछे खड़ा होकर ओमार द्वारा खाली की गई लालची कुतिया जो अब मजे के साथ आहें-कराहें भरते हुए ओमार के मोटे-गुलाबी लंड को चाटने में लगी हुई थी, की गांड को चोदने लगा.

अब तक वासना के आधिक्य में ढीले पड़ चुके ओमार ने नताशा को अपना लंड चुसाते हुए आहें कराहें भरनी जारी रखी थी. किसी शानदार पोर्न एक्ट्रेस की तरह मेरी पत्नी अपनी जीभ द्वारा ओमार के ढीले हुए लंड को खड़ा करने का प्रयत्न करने में लग गई, जबकि पीछे से जमैका का लंड लोहालाट हुआ मेरी पत्नी की गांड के चीथड़े उड़ाने में लगा हुआ था.

यह सेक्स कहानी जारी रहेगी.
3in1@inbox.ru

Check Also

शबाना चुद गई ट्रेन के बाथरूम में

Sabana Chud Gayi Train Ke Bathroom Me अन्तर्वासना के सभी दोस्तो को मोहित का प्यार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *