Antervasna - Hindi Sex Stories | नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ

रोज नई नई गर्मागर्म सेक्सी कहानियाँ Only On Antervasna.Org

जूही और आरोही की चूत की खुजली-34

Joohi Aur Aarohi Ki Choot Kee Khujali- Part34

पिंकी सेन
गुड-मॉर्निंग फ्रेंड्स आप के मेल से पता चला कि आपको कहानी के क्लाईमेक्स की जल्दी नहीं है। सब यही चाहते हैं कि कहानी चलती रहे। तो आनन्द लीजिए।
अब तक अपने पिछले भाग  जूही और आरोही की चूत की खुजली-33  में पढ़ा…
साहिल बड़े प्यार से जूही की चुदाई करता है और नीचे आकर जूही अन्ना से बात करने रूम में चली जाती है और अन्ना को डांटती है।
अब आगे…
जूही को गुस्से में देख कर अन्ना के होश उड़ जाते हैं।
अन्ना- बेबी हम तुम्हारे पैर पकड़ता जी प्लीज़ यहाँ किसी को कुछ मत कहना जी हम मर जाएगा जी प्लीज़…!
जूही- साले कुत्ते, तेरी इतनी हिम्मत हो गई है मेरी दीदी को गंदा कर दिया है। तुझे जरा भी डर नहीं लगा मेरा हाँ अब देख मैं क्या करती हूँ..! बहुत शौक है ना तुझे ब्लू-फिल्म बनाने का… अब तेरी फिल्म सबको मैं दिखा दूँगी और टीना को सब कुछ बता दूँगी मैं.. फिर देखती हूँ कितना बहादुर है तू…!
अन्ना- नहीं जी ऐसा मत करना… मैं कुछ नहीं करूँगा जी प्लीज़ अगर टीना को ये बात पता चल गई तो वो मर जाएगी प्लीज़…!
जूही- अगर मैं चाहूँ तो तुमको कब का मार देती, पर क्या करूँ मजबूर हूँ टीना मेरी बेस्ट-फ्रेंड है और तुमने तो बहुत कोशिश की कि मुझे रास्ते से हटा दो, पर कामयाब नहीं हुए क्यों…. मार दो मुझे… तुम्हारा डर ख़त्म हो जाएगा…!
अन्ना- नहीं जी तुम वो वीडियो किसके पास रखा जी बहुत हरामी होना वो.. अगर मैंने तुमको टच भी किया तो वो मेरी लाइफ बर्बाद कर देगा जी।
जूही- मन तो करता है, तुझे अभी जान से मार दूँ, पर तेरे जैसे गंदे आदमी के खून से मेरे हाथ ही गंदे होंगे। अब बाहर जाकर तेरे जो मन में आए वो झूट बोल और यहाँ से निकल जा.. मेरे भाई को मारा तुमने.. उसका बदला मैं बाद में लूँगी.. अभी तो मुझे रेहान और साहिल को मनाना है।
वहाँ साहिल और सचिन राहुल को गाड़ी से निकाल कर उस रूम में ले जाते हैं, जहाँ सब मौजूद थे।
राहुल- छोड़ो मुझे सालों एक-एक को देख लूँगा मैं…!
साहिल उसको कोने में लेजा कर धमकाने लगता है। सचिन भी कहाँ पीछे रहने वाला था, वो भी उसके साथ गालियाँ बकने लगा।
साहिल- साले मेरी बहन के साथ गंदा किया तूने… हाँ मादरचोद तेरे को जान से मार दूँगा मैं…!
संजू भाग कर उसको छुड़ाता है।
संजू- भाई… इससे हमको रेट भी तो पूछना है इसकी बहन का… जाने दो आप… हम देख लेंगे आप बाहर जाओ…!
सचिन- चल साहिल इसको ये सब बता देंगे बाहर चलते हैं।
वो दोनों बाहर आए तभी अन्ना और जूही भी बाहर आ जाते हैं।
अन्ना- रेहान जी हमको थोड़ा अर्जेंट काम होना जी हम जाता, आप का प्लान तो कामयाब हो गया जी… अब आप अपने हिसाब से बदला लो.. मेरे को जाने दो…!
रेहान- क्यों अन्ना आख़िर बात क्या है? मैं बहुत समय से देख रहा हूँ तुम जूही से नजरें नहीं मिला रहे हो और इसने ऐसा क्या कह दिया जो आरोही को
बिना चोदे जा रहे हो?
अन्ना- चोद लिया जी बस मन भर गया। आप मेरा बहुत अच्छा दोस्त होना जी।
प्लीज़ मुझ को जाने दो मैं तुमको नहीं बता सकता जी प्लीज़…!
साहिल- जूही, ऐसा क्या कह दिया तुमने..! ये क्यों जा रहा है? ऐसी क्या बात हुई तुम दोनों के बीच… हाँ…!
अन्ना- नहीं साहिल जी प्लीज़ इसको कुछ मत पूछो, मैं आपसे वादा करता हूँ समय आने पर खुद आपको बताएगा जी… अभी मैं जाता और जूही तुमको तुम्हारी माँ का कसम जी किसी को कुछ मत बताना जी..!
रेहान- अरे अन्ना ऐसा क्या हो गया जो तुम ऐसे घबरा रहे हो?
अन्ना- प्लीज़ रेहान जी मेरे को जाने दो बाद में सब मैं खुद बताएगा जी..!
अन्ना आपने आदमी लेकर वहाँ से चला जाता है। साहिल और सचिन बस जूही को देख रहे थे और रेहान कुछ सोच रहा था। आरोही अब भी वहीं खड़ी थी। रेहान सीधा उस रूम में जाता है जहाँ वो तीनों थे।
राहुल- रेहान ये सब क्या है? इन लोगों ने मुझे सब बता दिया है तुम बदला लेने के लिए इतना गिर जाओगे..! मैं सोच भी नहीं सकता।
रेहान- चुप बहनचोद मैं अपनी जान का बदला लेने के लिए तुम लोगों के साथ खेल रहा हूँ.. पर तू तो अपनी बहनों को चोद चुका है, तुझे शर्म नहीं आई..!
अंकित- क्या… इसने दोनों को चोदा है… हाय रे हमारी फूटी किस्मत…. साले हमें भी देदे ना अपनी दोनों रंडी बहनों को कसम से बड़े प्यार से चोदेंगे।
राहुल- चुप कर साले हरामी तेरी औकात में रह…!
संजू को गुस्सा आ गया और वो उठकर गया और उसने राहुल का कॉलर पकड़ लिया, अंकित भी साथ हो लिया। रेहान ने उनको रोका राहुल बेहाल सा होकर एक साइड में बैठ गया।
रेहान- साले अगर जीना चाहता है तो वहीं बैठा रह।
राहुल कुछ बोलना चाहता था, पर अभी उसे ठुकाई का डर उसको याद आ गया।
रेहान उन दोनों को समझा कर बाहर आ जाता है।
रेहान- जूही ऐसी क्या बात की तुमने अन्ना से कि वो दुम दबा कर भाग गया।
मैं पागल नहीं हूँ सब समझता हूँ तू मेरे को झूट बोली ना कि तू हमारे साथ है… साली छिनाल… अपनी बहन को बचाने के लिए तू तड़प रही है। अब देख तुम दोनों का क्या हाल करता हूँ मैं..!
जूही- नहीं रेहान जी आप गलत सोच रहे हो। मैं बस उस अन्ना से दीदी को नहीं चुदवाना चाहती थी। मुझे नफ़रत है उस आदमी से।
रेहान- क्यों उसने तेरी गाण्ड मारी थी क्या? जो नफ़रत है?
जूही- प्लीज़ अभी कुछ मत पूछो, आपके दोस्त की बदनामी होगी उसने आपको मना भी किया पूछने से…!
आरोही- रेहान प्लीज़ मुझे माफ़ कर दो, मैंने जो किया गुस्से में किया, प्लीज़ मुझे माफ़ कर दो…!
रेहान- साली, बहन की लौड़ी अब माफी माँग रही है, इतनी आसानी से तुझे माफी नहीं मिलेगी, पहले तेरा घमण्ड तोड़ूँगा मैं…!
जूही चुप खड़ी सब सुन रही थी और रेहान आरोही को गालियाँ दे रहा था। बस आरोही माफी माँगे जा रही थी, तभी संजू दवा लेकर आ गया। रेहान वो गोली लेकर पानी के गिलास में मिला देता है और संजू के साथ मिलकर ज़बरदस्ती आरोही को पिला देता है। आरोही बचने की बहुत कोशिश करती है, पर नाकाम रहती है। पाँच मिनट तक सब शान्त थे आरोही को चक्कर आने लगे।
रेहान- संजू जाओ अंकित को बुला ला…!
संजू अन्दर जाता है अंकित शराब पीकर मस्त था। संजू भी बोतल साथ ले आया और किसी भूखे कुत्ते की तरह वो आरोही को घूरने लगे।
आरोही- प्लीज़ रेहान जी मुझे माफ़ कर दो प्लीज़ साहिल तुम तो माफ़ कर दो मुझे… इन कुत्तों के हवाले मत करो… इन्होंने सिम्मी को बहुत तड़पाया था प्लीज़…!
ये सुनकर साहिल के रोंगटे खड़े हो गए, पर तभी रेहान बोल पड़ा।
रेहान- सालों जैसा उस दिन किया अगर आज वैसा नहीं हुआ ना तो तुम दोनों को जान से मार दूँगा मैं…!
संजू- हाँ भाई आप बस देखो दोनों बहनों को आज तड़पा-तड़पा कर चोदेंगे…!
जूही- प्लीज़ रेहान अब भी वक़्त है रोक लो इन्हें… दीदी को माफ़ कर दो.. आपने हमारे साथ जो किया आप उसको कैसा बदला समझा रहे हो…. हाँ… अरे आपने चोदा और सब से चुदवाया.. साथ में मेरी भी लाइफ बर्बाद कर दी। मेरा तो कोई कसूर ही नहीं था.. प्लीज़ समझो बात को.. दीदी जलन में अंधी हो रही
थी और आप बदले की भावना में अंधे हो रहे हो।
रेहान- चुप कर कुत्ती… सिम्मी मेरी जान थी…!
जूही- अरे तो उसकी मौत का कितना बदला लोगे… हाँ… हम दोनों बहनों की इज़्ज़त आपने दांव पर लगा दी.. ये दो कुत्ते जिन्होंने सिम्मी को बर्बाद किया। आप इनको दोबारा वो ही हैवानियत करने को बोल रहे हो… इससे अच्छा तो है मार दो..! हमें ताकि तुम्हारे दिल को सुकून मिले, अरे मैं तो कब से जानती हूँ पर मैं
चुप रही, क्योंकि मैं भी मानती हूँ दीदी ने गलत किया, पर कहाँ लिखा है? जो पाप करे उसके घर वालों को भी सज़ा मिलनी चाहिए..! अब तुमको जो
करना है करो, लेकिन मैं बेगुनाह हूँ, तुमने मेरे साथ जो किया उसका बदला मुझे देदो मेरी इज़्ज़त वापस देदो, फिर मार दो दीदी को..!
जूही रोए जा रही थी और बोल रही थी। आरोही को होश नहीं था, पर वो अन्दर से रो रही थी। राहुल भी बाहर आ गया और साहिल के पैर पकड़ लिए।
राहुल- प्लीज़ जूही की बात मान लो, माफ़ कर दो हमको, नादानी समझो या सेक्स की भूख हमसे ग़लती हुई है, प्लीज़ माफ़ कर दो…!
साहिल- भाई एक बात कहूँ जो हुआ गलत हुआ अब हम जो कर रहे हैं.. वो भी गलत है, जाने दो ना, इनको सज़ा मिलनी थी मिल गई, इन कुत्तों को सज़ा
दे दो, मैं नहीं रोकूँगा बस।
“ओके तुम कहते हो, तो मान लेता हूँ। ये माफी के काबिल तो नहीं है, पर जूही की बातों ने मुझे भी झकजोर दिया है।”
रेहान की बात सुनकर संजू और अंकित सन्न रह गए।
संजू- सालों हमें मारने का सोच रहे हो क्या? हम पागल हैं… भाग अंकित वरना ये साले छोड़ेंगे नहीं हमको…!
वो दोनों भागते इसके पहले साहिल ने उनको पकड़ लिया। नशे की हालत में कहाँ भागते कुत्ते। उन दोनों को वापस अन्दर बन्द कर दिया और सब रूम में आकर बैठ गए और बातें करने लगे।
सचिन- यार सही है, जो हुआ बहुत हुआ इतनी सज़ा काफ़ी है भाई उन वीडियो का क्या करना है अब…!
रेहान- ख़त्म कर दो सब, आज जूही ने हमें पाप करने से बचा लिया है।
साहिल- मगर भाई इस राहुल ने मेरी सिम्मी की गाण्ड मारी थी। इसको सज़ा तो मिलनी चाहिए ना…!
राहुल- अरे यार अब सब ठीक हो गया, प्लीज़ भूल जा ना और तू मेरी बहन की गाण्ड मार ले। हिसाब बराबर हो जाएगा… प्लीज़ यार हम सब एन्जॉय करेंगे न…!
रेहान- साला बहनचोद इतना बड़ा हरामी है ना तू इतना सब हो गया अब भी तेरी लार टपक रही है चूत पर…!
जूही- रेहान जी इसमें गलत क्या कहा भाई ने…! अब सब ठीक हो गया है तो चलो ना एक ग्रुप-सेक्स हो जाए मज़ा आएगा…!
राहुल- आरोही को देखो, उसको तो होश ही नहीं है, कहाँ शामिल हो पाएगी वो…!
जूही- मैं हूँ न.. सब मिलकर मुझे चोदो मेरा हाल से बेहाल कर दो ताकि दीदी ने जो किया, उसकी सज़ा के तौर पर मैं अपने आप को खुश समझूँगी कि मैंने
दीदी को बचा लिया।
साहिल- नहीं जूही तुम सह नहीं पाओगी। हम 4 हैं.. मर जाओगी और अब सज़ा किस बात की? सब ठीक हो गया ना?
जूही- अरे साहिल जी सज़ा नहीं, तो मज़ा ही सही… पर मेरा मन है, बस हम ग्रुप-सेक्स करेंगे..! चोदो मुझे सब मिल कर मज़ा लो मेरी जवानी का…!
राहुल- जा भाई साहिल इसकी गाण्ड पर तेरा हक़ है, तू तोड़ इसकी गाण्ड की सील..! मैं तो चूत से मन भर लूँगा।
रेहान- ये सही रहेगा, सचिन तुम इसके मुँह को चोदो मैं अन्ना के पास जाकर आता हूँ।
जूही- ओह रेहान जी आप के बिना मज़ा नहीं आएगा। सब से बड़ा हथियार तो आपके पास है।
साहिल- अरे यार जूही अब रेहान क्या तेरे कान में लौड़ा डालेगा? जाने दे ना उसको..!
जूही- नहीं, साहिल भाई आरोही को चोद लेगा वैसे भी मैंने उससे चुदाई करवा ली है। अब सचिन को चूत का स्वाद दूँगीं, आप गाण्ड मारना और रेहान जी के लौड़े का टेस्ट बहुत अच्छा है। मैं उसको चुसूंगी बस…!
राहुल- अरे वाह मैं अकेला आरोही को आराम से चोदूँगा, सोई हुई भी बड़ी मस्त लग रही है वो, पहले चूत से शुरू करता हूँ.. यार जूही वो तो सोई है, जल्दी से मेरा लौड़ा चूस कर गीला कर दे न.. प्लीज़…!
जूही- ओके ओके.. सब कपड़े निकाल दो, अब यहाँ कोई कपड़े में नहीं रहेगा। राहुल दीदी को भी नंगा कर दो जल्दी से…!
ओके फ्रेंड्स अब तो कोई राज नहीं रहा ना.. ओह शायद एक रह गया… कोई बात नहीं अगले पार्ट में बता दूँगी। वैसे मैंने स्टोरी को दोबारा सैट किया है क्योंकि
मार-काट यहाँ नहीं लिख सकती हूँ इसलिए प्यार से काम निपटा दिया ओके… अब ज़्यादा बात नहीं करूँगी, जल्दी से मेरी आईडी pinky14342@gmail.com पर बताओ आज का पार्ट कैसा लगा।

Antervasna - Hindi Sex Stories | नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ © 2018