Antervasna - Hindi Sex Stories | नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ

रोज नई नई गर्मागर्म सेक्सी कहानियाँ Only On Antervasna.Org

जूही और आरोही की चूत की खुजली-12

Joohi Aur Aarohi Ki Choot Kee Khujali- Part12

पिंकी
हैलो दोस्तो, कैसे हो.. मज़ा आया न..!  पिछले भाग :- जूही और आरोही की चूत की खुजली-11  में..!
अब आपको धीरे-धीरे आरोही की बर्बादी की तरफ ले जाती हूँ।
आप कहानी का आनन्द लीजिए।
अब तक अपने पढ़ा…
राहुल अपने घर में अन्ना से आरोही को मिलाने के बाद फिर उसको चोदता है और शाम को उसे घर छोड़ आता है। राहुल आरोही से पूछता है, पर वो थकान का बहाना करके उसे ज़्यादा कुछ नहीं बताती, पर उसको शक करवा देती है कि वो किसी लड़के से मिलने गई थी।
अब आगे राहुल बाहर आकर रेहान को फ़ोन करता है और उसको बताता है कि उसका शक सही था, वो किसी लड़के से मिलने गई थी, पर मैंने ज़्यादा पूछा नहीं, वो अभी रेस्ट कर रही है उस डायरेक्टर से बात हुई क्या… कल कब आना है.?
रेहान- मैं कल ही समझ गया था, अभी कुछ मत कहो, कल सुबह मैं आ रहा हूँ 8 बजे क्योंकि कल वो शूटिंग में बिज़ी रहेगा, तो जल्दी बुलाया है। वैसे मैं उसको कॉल कर लूँगा, पर तुम भी बता देना।
राहुल- ओके ओके.. भाई, टेन्शन मत लो, कल तो मैं उसके साथ आ सकता हूँ न..!
रेहान- नहीं यार सारा खेल बिगड़ जाएगा, मैं वादा करता हूँ बहुत जल्द वो तुम्हारी बाँहों में होगी।
राहुल ख़ुशी से झूम उठा और फ़ोन बंद करके अपने दोस्तों के पास चला गया।
आरोही चुदाई से थक गई थी, अपने कमरे में जाकर सो गई।
राहुल करीब रात को 9 बजे घर आया, तब भी आरोही सो रही थी।
राहुल- आरोही… उठो बहना, टाइम देखो कितना हो गया है, खाना नहीं खाना क्या..!
आरोही- उऊः क्या है भाई.. कितना अच्छा सपना आ रहा था.. आपने जगा दिया।
राहुल- अच्छा क्या था बताओ तो.. अब उठो कुछ खा लो… रेहान का फ़ोन आया था..कल 8 बजे जाना है। उसने तुमको भी किया क्या..!
आरोही- पता नहीं मैं तो सो रही थी, फ़ोन साइलेंट था आ उउउ..!
आरोही अपना मोबाईल चैक करती है।
आरोही- ओ माई गॉड… 5 मिस कॉल हो गए… रेहान जी कहीं नाराज़ ना हो जाएं.. अभी कॉल करती हूँ।
राहुल- पहले फ्रेश हो जाओ.. बाद में कर लेना।
आरोही- नहीं भाई अभी कर लेती हूँ… पता नहीं वो क्या सोच रहे होंगे..!
आरोही ने फ़ोन लगाया, रेहान ने साधारण बात की और सुबह के लिए उसको तैयार रहने को बोला।
आरोही ख़ुशी-ख़ुशी बाथरूम में फ्रेश होने चली गई, 20 मिनट बाद दोनों भाई-बहन खाना खाने लगे।
राहुल- आरोही, अब तो तुम खुश हो ना?
आरोही- हाँ भाई.. मैं बहुत खुश हूँ।
राहुल- तो अपने भाई को भी खुश कर दो.. मेरा मतलब है जल्दी से हीरोइन बन जाओ, मुझे तब ख़ुशी होगी..!
आरोही- भाई बस कल की बात है, अगर कल सब ठीक रहा न.. तो मैं आपको वो दूँगी कि आप सोच भी नहीं सकते..!
राहुल- ओह वाउ.. मुझे कल का इंतजार रहेगा, माई स्वीट सिस.. अब मेरा तो हो गया.. मैं तो टीवी देखूँगा.. तुम भी आ जाओ न..!
आरोही- नहीं भाई.. आप देखो… मुझे कल के लिए थोड़ी तैयार हो जाने दो.. ओके..!
राहुल उसको ‘बाय’ बोलकर चला गया और आरोही अपने कमरे में जाकर पूरी नंगी हो गई और वो क्रीम चूत पर लगा कर सो गई।
वो बस आने वाले कल के बारे में सोच रही थी और पता नहीं कब उसको नींद ने अपने आगोश में ले लिया।
राहुल- ओह आरोही, तुम्हारे मम्मे क्या मस्त हैं… आ मज़ा आ रहा है आ..हह..आ अफ…. आरोही आहह एयेए मेरा लंड चूसो.. उफ आ मज़ा आ गया आ..हह.. चूसो अपने भाई का लौड़ा आ..हह.. ज़ोर से आ अएयेए मेरा पानी निकलने वाला है आ आ..हह…!
राहुल के लंड से पिचकारी निकलने लगती है और उसकी आँख खुल गई।
राहुल को जब यह अहसास हुआ कि ये सपना था, तो वो मुस्कुराने लगा और अपने आप से ही बोलने लगा- सुबह का सपना है, जरूर सच होगा और आरोही तुमको ऐसे ही मेरा लौड़ा चूसना होगा, लेकिन पानी तो मैं तेरी चूत में ही निकालूँगा..!
राहुल ने घड़ी की तरफ देखा, सुबह 7 बज रहे थे, वो जल्दी से बाथरूम गया और शॉवर ऑन करके खड़ा हो गया।
15 मिनट में फ्रेश होकर, वो तौलिया बाँध कर आरोही के कमरे के पास आया, वो बन्द था, तो राहुल ने आरोही को आवाज़ लगाई, तब उसकी आँख खुली।
राहुल- आरोही, जल्दी उठो 7.30 बज गए हैं रेहान ने कहा था, ठीक 8 बजे आएगा… लेट मत करो।
आरोही हड़बड़ा कर उठी।
आरोही- ओह माई गॉड.. उठ गई भाई.. बस अभी आई रेडी होकर, आज तो लेट हो गई बाबा..!
राहुल अपने कमरे में तैयार होने गया और आरोही भी जल्दी से बाथरूम में घुस गई।
ठीक 8 बजे रेहान ने हॉर्न मारा तो राहुल बाहर आया।
राहुल- हाय ब्रो… गुड मॉर्निंग कैसे हो?
रेहान- मैं तो अच्छा हूँ.. आरोही कहाँ है, उसको जल्दी बुलाओ यार, लेट हो जाएँगे..!
राहुल- कूल.. यार आ जाएगी और सुनाओ आज का क्या प्रोग्राम है.. मैं अकेला बोर हो जाऊँगा यार.. साथ ले चल न.. मैं दूर रहूँगा..!
रेहान- यार आज की बात है.. अब इतना तो सब्र कर ले न..!
वो दोनों बातों में मस्त हो गए, 8.20 पर आरोही भागती हुई बाहर आई।
उसने पीला टॉप और गुलाबी स्कर्ट पहनी थी, वो काफ़ी सेक्सी लग रही थी।
आरोही- हाय रेहान जी.. सॉरी मैं लेट हो गई।
रेहान- अब ये सब गाड़ी में बोल देना… पहले ही लेट हो गए हैं हम.. ओके..!
राहुल- बाय.. मैं फ़ोन करता हूँ तुमको..!
“प्लीज़ तुम मत करना वहाँ.. क्या पता हम बिज़ी हों और बीच में तुम्हारा फ़ोन आ जाए..!”
राहुल- ओके बाबा नहीं करूँगा.. अब जाओ भी तुम लोग और लेट हो जाओगे..!
रेहान ने गाड़ी स्टार्ट की, आरोही भी बैठ गई और दोनों वहाँ से निकल गए।
रेहान- जान… मैंने कहा था 8 बजे रेडी रहना, फिर भी देर कर दी..!
आरोही- सॉरी रेहान जी.. कल तो जोश-जोश में आपसे 3 बार प्यार कर लिया और रात को पूरा बदन अकड़ रहा था, थकान की वजह से ऐसी नींद आई कि सुबह आँख ही नहीं खुली, राहुल ने आवाज़ दी तब जाकर उठी..!
रेहान- अच्छा 3 बार प्यार किया… हाँ ऐसा कहो 3 बार चुदाई की हा हा हा हा हा..!
आरोही- आप भी ना बड़े बेशर्म हो..!
रेहान- वो तो मैं हूँ.. आज तो स्कर्ट पहन कर आई हो जाँघें भी चमक रही हैं.. क्या बात है जान.. क्या इरादा है तुम्हारा..!
आरोही- इसी लिए तो लेट हो गई मैं हाथ पाँव और सब जगह के बाल साफ किए हैं मैंने.. हीरोइन भी ऐसे ही रहती हैं न… एकदम चिकनी..!
रेहान- जान कल तो मैंने चूत को देखा है, वो तो चिकनी ही थी आज दोबारा क्यों..!
आरोही- ओह वो तो थी.. पर पैरों पर लगाई तो सोचा उस पर भी लगा लूँ.. दोबारा चमका लूँ बस और कुछ नहीं..!
रेहान- वाउ… आज तो अन्ना गया काम से.. तुम तो पूरी तैयारी के साथ आई हो.. आज क्या अन्ना के सामने नंगी होने का इरादा है?
आरोही- प्लीज़ रेहान जी.. मैं वैसे ही परेशान हूँ.. आप भी.. कुछ भी बोल रहे हो.. मैंने ये सब आपके लिए किया है !
रेहान- ओके जान सॉरी.. अब मजाक नहीं करूँगा, पर वहाँ जरा ख्याल करना.. आज अन्ना से पक्का हाँ करवानी है.. ओके..!
आरोही- आप बस मेरे साथ रहना, कोई गलती हो तो इशारा कर देना बस..!
वो दोनों बातें करते रहे और गाड़ी सड़क पर दौड़ती रही। करीब 9 बजे वो एक फार्म हाउस पर पहुँचे, जहाँ किसी फिल्म की शूटिंग चल रही थी।
वहाँ नामचीन स्तर तो कोई नहीं था, पर जूनियर आर्टिस्ट थे, अन्ना डायरेक्टर की कुर्सी पर बैठा था, कोई रोमाँटिक सीन चल रहा था। एक लड़की और लड़का भीगे हुए एक-दूसरे से चिपके हुए थे।
अन्ना की नज़र रेहान पर गई और वो उनको देखते ही गुस्से में बोलता है- कट कट कट… अईयो… ये क्या तमाशा लगा के रखा जी.. एक डायलोग भी ठीक से नहीं बोल सकते हो और ऐसा दूर-दूर से क्या बोलती तुम.. रोमान्टिक सीन जी.. थोड़ा चिपको.. बाद में बोलो..!
लड़की- सॉरी सर मैं फिर से करती हूँ.. वो मुझे सबके सामने थोड़ी शर्म आ रही है..!
अन्ना- तुम ऐसा शर्म करेगा तो बन गई फिल्म.. मेरा कितना खर्चा हो गया अईयो.. कौन लाया जी ऐसा लड़की को.. मेरा पूरा भेजा घूम गया ‘पैक-अप’ जी आज शूटिंग नहीं होगा जाओ सबके सब..!
रेहान और आरोही अन्ना के पास जाकर ‘हैलो’ बोले।
अन्ना- तुम दोनों अन्दर बैठो जी.. मैं आता थोड़ी देर में..!
दोनों अन्दर चले गए, अन्ना अभी भी गुस्सा कर रहा था।
आरोही- बाप रे रेहान जी.. अन्ना सर तो बहुत गुस्सा हैं आज.. पता नहीं मेरा क्या होगा..!
रेहान- हाँ जान.. वो उस लड़की से खफा हैं, अब तुम ध्यान रखना.. कोई ऐसी बात मत बोल देना कि बना बनाया काम बिगड़ जाए।
आरोही कुछ बोलती इसके पहले ही अन्ना अन्दर आया, उसको देख कर दोनों खड़े हो गए।
अन्ना- तुम बैठो जी, और सुनाओ क्या लोगे ठंडा या गर्म..!
रेहान- नहीं नहीं.. कुछ नहीं आप कुछ ठंडा लो आपको गुस्सा आ रहा है न.. तो दिमाग़ ठंडा हो जाएगा..!
अन्ना- नहीं रे.. हम को गुस्सा क्यों अन्ना.. मालूम वो छोकरी को हम चाँस दिया, नया फिल्म का हीरोइन बनाया लेकिन उसको कुछ नहीं जी.. हम 2 दिन से परेशान.. ये फिल्म बहुत बड़ी हिट होने वाली जी.. ऐसा स्टोरी बहुत कम मिलना जी..लेकिन उसको कुछ समझ नहीं आना जी..!
रेहान- ओह तो उसको प्राब्लम क्या है..!
अन्ना- कुछ नहीं जी.. एक्टिंग तो ठीक करती पर थोड़ा सेक्सी पोज़ देने के टाइम नाटक करती कि हमको शर्म आती.. आज हम गुस्सा हो गया.. उसको निकाल दिया जी फिल्म से.. अब कोई नया छोकरी लेगा, जो सब अच्छे से कर सके..जी..!
रेहान- अन्ना बुरा ना मानो तो आरोही को ले लो ये फिल्म में।
बस दोस्तो, आज के लिए इतना काफ़ी है। अब आप जल्दी से मेल करके बताओ कि मज़ा आ रहा है या नहीं?
क्या आप जानना नहीं चाहते कि आगे क्या हुआ ..?
तो पढ़ते रहिए और आनन्द लेते रहिए..।
मुझे आप अपने विचार यहाँ मेल करें।
pinky14342@ gmail.com
बाय !

Antervasna - Hindi Sex Stories | नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ © 2018