Antervasna - Hindi Sex Stories | नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ

रोज नई नई गर्मागर्म सेक्सी कहानियाँ Only On Antervasna.Org

जूही और आरोही की चूत की खुजली-10

Joohi Aur Aarohi Ki Choot Kee Khujali- Part10

पिंकी
हैलो दोस्तो कैसे हो.. मज़ा आया न.. दोस्तो, अब तक आपने  मेरी कहानी :- जूही और आरोही की चूत की खुजली-9   में पढ़ा ..!

अब आपको पता चल जाएगा कि पिंकी किसी की कहानी की नकल नहीं करती। कुछ दोस्तों ने कहा कि ऐसी बहुत कहानियाँ पढ़ चुके हैं, जिनमें बहन को मॉडल बनाने के बहाने चोदना आदि हो, लेकिन दोस्तो, मैंने शुरूआत वैसे की जरूर है, पर आगे कहानी में कई मोड़ आएँगे, आप बस पढ़ते जाइए और अंत में बताना कि ऐसी कोई कहानी पहले कहीं पढ़ी है क्या..!
ओके अब आपको ज़्यादा बोर नहीं करूँगी। आप कहानी का आनन्द लीजिए।
अब तक अपने पढ़ा…
रेहान आरोही को दो बार चोद कर मज़ा ले चुका है और उसको अपने घर में सुला कर खुद राहुल के पास चला जाता है। उसके सामने यह नाटक करता है कि आरोही अपने किसी फ्रेंड के साथ है। राहुल को यह बता कर वो वापस घर जाता है और शाम को आरोही को अन्ना से मिला कर खुश कर देता है।
अब आगे…
अन्ना के जाने के बाद रेहान अन्दर आ जाता है आरोही भाग कर उससे लिपट जाती है।
आरोही- थैंक्स रेहान जी.. थैंक्स.. आपकी वजह से उसने ‘हाँ’ कर दिया, आप बहुत अच्छे हो।
रेहान- अच्छा-अच्छा ठीक है.. अब बैठो, कुछ जरूरी बात करनी है।
दोनों सोफे पर बैठ गए, आरोही बहुत उत्साहित थी, उसका चेहरा खिला हुआ था।
रेहान- हाँ तो जान.. अब कहो कैसा लगा डायरेक्टर से मिल कर? और उसने जो कहा उस पर गौर किया तुमने?
आरोही- बहुत अच्छा लगा, पर वो मद्रासी था ना अन्ना.. कभी नाम नहीं सुना उसका और उसकी हरकतें भी ठीक नहीं थी। आपके कहने पर मैं चुप थी और उसकी बातें भी नहीं समझ आईं कि अभी कच्ची है, पकाओ वगैरह वगैरह..!
रेहान- जान.. वो कोई छोटा-मोटा आदमी नहीं है बड़ी-बड़ी हिट फ़िल्में बनाई हैं और रही उसकी हरकत की बात, तो मैंने पहले ही कहा था इस लाइन में ये सब आम बात है। वो तुमको आजमा रहा था, अगर तुम कुछ बोलतीं, तो वो मना कर देता ! समझी?
आरोही- आजमा रहा था.. मैं कुछ समझी नहीं?
रेहान- अरे यार… तुमको फिल्म में हीरोइन लेगा अगर ऐसा कोई सीन आएगा और तब तुम मना कर दो तो..! इसलिए वो चैक कर रहा था कि ऐसे सीन के लिए तुम तैयार हो या नहीं और कच्ची का मतलब है एक्टिंग में.. समझी..! अब कल उसके पास जाना है, आओ मैं तुमको समझा देता हूँ कि क्या करना होगा। वहाँ आ जाओ रूम में, आराम से समझाता हूँ।
दोनों रूम में चले गए।
आरोही- हाँ मैं तैयार हूँ.. रेहान जी अब बताओ क्या करना होगा।
रेहान- सबसे पहले तो मेरी बात गौर से सुनो राहुल को इन सबके बारे में कुछ मत बताना। बस कोई साधारण सी बात बता देना। शायद उसको अच्छा ना लगे ये सब..!
आरोही- नहीं नहीं.. रेहान जी, आप राहुल की टेन्शन मत लो, उसी ने मुझे यह सब बताया था कि इस लाइन में क्या-क्या होता है और उसने तो मुझे..!
आरोही बोलते-बोलते चुप हो जाती है।
रेहान- क्या उसने मुझे…! जान पूरी बात बताओ शरमाओ मत, मेरा जानना जरूरी है।
आरोही पूरी बात बता देती है कि कैसे राहुल ने गेम खेलने के बहाने उसके मम्मों को दबाया और जूही के बारे में भी सब कुछ बता दिया ब्रा-पैन्टी में राहुल के सामने गई.. वो बात भी बता दी।
रेहान- ओ माई गॉड.. ये सब बातें सुनकर मैं समझ गया कि राहुल बहुत चालाक है।
आरोही- क्या मतलब चालाक है..!
रेहान- जान वो सब मैं बाद में बताऊँगा। बस तुम उसको ऐसा कुछ नहीं बताओगी अगर हीरोइन बनना है तो.. उसको कहना बस नॉर्मल पिक लीं और अन्ना से मिलीं, उन्होंने टेस्ट के लिए कल बुलाया है। इसके अलावा ज़्यादा बात भी मत करना ओके..!
आरोही- ओके बाबा नहीं कहूँगी, अब कल की तैयारी करें..!
रेहान- ओके मैं यहाँ बैठता हूँ, तुम वहाँ से आओ.. समझो मैं अन्ना हूँ अब जो मैं पूछू उसका जवाब देना।
आरोही- ओके..!
रेहान ने बेड पर बैठ कर आरोही को आने का इशारा किया।
आरोही बड़ी स्टाइल से चलती हुई उसके पास आकर बैठ गई।
रेहान- तुमको हीरोइन बनना है, यह बताओ कोई हॉट सीन आएगा तो कोई नाटक नहीं करोगी ना?
आरोही- नहीं सर.. आप जो कहोगे, मैं करूँगी।
रेहान- गुड, समझदार हो, अच्छा तुम्हारे अनार का साइज़ क्या है?
रेहान ने आरोही के मम्मों को दबा कर यह बात बोली।
आरोही- सर 32″ है।
रेहान- वेरी गुड.. अब बेबी जरा दिखाओ तो कैसे हैं ये अनार..!
आरोही- रेहान जी.. क्या सच में अन्ना ये सब कहेगा..!
रेहान- क्यों कोई प्राब्लम है तुमको, यार मैं तो बस अंदाज़ा लगा रहा हूँ, कहे या ना कहे पर तुमको तो रेडी रहना चाहिए ना.. हर बात के लिए..!
आरोही- रेहान जी मैं रेडी हूँ, पर उसने कुछ किया तो..!
रेहान- देखो रानी… वो सिर्फ़ जिस्म देखेगा, छू कर महसूस करेगा.. इससे ज़्यादा कुछ नहीं, मैं साथ रहूँगा न.. डरती क्यों हो..!
आरोही- ओके बाबा, तुम हो तो किस बात का डर, अब तो मैं उसके सामने नंगी भी हो जाऊँगी। बस आप मेरे साथ रहना मगर वो मान तो जाएगा न..!
रेहान- जानेमन… नंगी होने की जरूरत नहीं पड़ेगी, अन्ना ऐसा कुछ नहीं करेगा, मैं जानता हूँ उसको और मानेगा क्यों नहीं, थोड़ा भी ना नुकुर करे तो साले के लंड पर हाथ रख देना। साला ‘ना’ को भी ‘हाँ’ बोलेगा.. हा हा हा हा हा..!
दोनों खिलखिला कर हँसने लगे।
आरोही- रेहान सच बताओ न.. मैं क्या करूँ कल?
रेहान- देखो जान… वैसे तो मैंने उसको पटा लिया है, पर फिर भी कल थोड़ा बहुत कुछ हो तो संभाल लेना। तुम ‘समझ’ रही हो न मैं क्या कह रहा हूँ..!
आरोही- हाँ रेहान जी.. मैं समझ रही हूँ सच कहूँ तो मुझे आपसे प्यार हो गया है। अब यह जिस्म सिर्फ़ आपका है, कोई दूसरा इसको टच भी करता है तो बुरा लगता है। आपने बहुत मज़े दिए मुझे, अब आप जो कहोगे मैं करने को तैयार हूँ, बस मुझे हीरोइन बना दो प्लीज़..!
रेहान- ओके जान मेरा वादा है तुमसे, तुम फिल्म में ‘मेन-हीरोइन’ का काम जरूर करोगी। अब खुश.. बस अपने रेहान की इज़्ज़त का ख्याल रखना..!
आरोही खुश होकर रेहान से लिपट गई और उसे चूमने लगी।
रेहान भी उसके होंठों को चूसने लगा, दोनों एक-दूसरे को कस कर भींच लिया।
करीब 5 मिनट के चूमा-चाटी के बाद रेहान उसको बाँहों में उठा कर बेड पर लिटा दिया और उसके मम्मों को दबाने लगा।
आरोही पर मस्ती चढ़ने लगी और वो रेहान के शर्ट के बटन खोलने लगी।
रेहान भी उसकी शर्ट के बटन खोलने लगी।
अचानक रेहान को कुछ याद आया और वो उठ गया।
आरोही- उहह डार्लिंग आओ ना.. क्या हुआ ससस्स कहाँ जा रहे हो.. आ जाओ ना..!
रेहान- रूको जान… रिकॉर्डिंग ऑन कर दूँ, हमारे प्यार को कैमरे में बंद कर दूँ ताकि कभी भी तुम्हारी याद आए तो मैं उसको देख लूँ !
रेहान वीडियो-कैमरा ऑन करके उसको सैट करके आ गया।
आरोही- आ..ह स्वीटहार्ट मेरी याद आए तो मुझे बुला लेना.. इस रेकॉर्डिंग में क्या रखा है.. उफ़ आ..ह.. आराम से दबाओ ना.. अइ कक उफफफ्फ़..!
दोनों मस्ती में खो चुके थे और रेहान ने एक-एक करके आरोही के सारे कपड़े निकाल दिए।
आरोही ने भी रेहान का शर्ट निकाल दिया पर पैन्ट अभी बाकी थी।
अब आरोही का नंगा जिस्म जलने लगा।
आरोही- उफ़ आह स्वीटहार्ट… मेरे तो सारे कपड़े निकाल दिए आ..प.. अपनी पैन्ट आ..ह.. निकालो ना आ..ह.. रूको… मैं ही निकालती हूँ..!
आरोही ने रेहान को लिटा दिया और उसकी पैन्ट खोलने लगी।
साथ-साथ वो अपनी जीभ से रेहान के पेट पर चाट भी रही थी। बड़ी ही अदा के साथ उसने रेहान की पैन्ट निकाली और अंडरवियर के ऊपर से ही लंड को दाँतों से हल्का काटने लगी।
रेहान- आ..ह.. उफ़फ्फ़ जान क्या इरादा है आओच ओफफफ़ो नहीं आ..हह..!
आरोही हल्की मुस्कान दे रही थी, अब उसने वो आख़िरी कपड़ा भी निकाल दिया था।
रेहान का लौड़ा एकदम तना हुआ, आरोही के मुँह के पास था। आरोही ने झट से उसे मुँह में भर लिया और चूसने लगी।
रेहान ने आरोही को पकड़ कर उल्टा कर दिया और उसकी चूत चाटने लगा अब दोनों मस्ती में आ गए।
दस मिनट तक दोनों उसी अवस्था में मस्ती करते रहे, आरोही की चूत पानी छोड़ने लगी थी।
अब रेहान के बर्दाश्त के बाहर था, उसने आरोही को हटाया और खुद बैठ गया।
आरोही- उहह क्या है.. रेहान आ..हह.. मज़ा आ रहा था… आप हट क्यों गए.. चाटो ना.. आ..हह.. प्लीज़..!
रेहान- जान देखो लंड बेकाबू हो गया है, अब इसको चूत में डालना ही पड़ेगा। यह नहीं मानेगा..!
आरोही लेट गई, बोली- तो आ जाओ ना… रोका किसने है.. अब ये चूत तुम्हारी है… जब चाहो चोद लो..!
रेहान- जान ऐसे नहीं अब डॉगी स्टाइल में करूँगा.. चलो बन जाओ कुतिया..!
आरोही- वाउ… मज़ा आएगा.. मेरा भी मन था ऐसे करने का.. पर आराम से करना..! बड़ी मुश्किल से चूत का दर्द कम हुआ है।
आरोही कुतिया बन गई और दोनों पैरों को फैला कर घुटनों के बल ऐसे आई कि उसकी गाण्ड पीछे को उभर आई, उसकी फूली हुई चूत भी बाहर आ गई।
रेहान तो यह नजारा देख कर काबू से बाहर हो गया, जल्दी से उसके पीछे आया, लौड़े पर थोड़ा थूक लगाया और ठूँस दिया चूत में..!
दोस्तो, आज के लिए इतना ही।
आप इस भाग के बारे में अपनी राय मेरी आईडी pinky14342@ gmail.com पर मेल करके बताइए।
मुझे उम्मीद है कि आपको कहानी पसन्द आ रही होगी।
बाय

Antervasna - Hindi Sex Stories | नई हिन्दी सेक्स कहानियाँ © 2018