Home / कोई मिल गया (page 4)

कोई मिल गया

ऎसे ही अनजानी लड़की लड़का या औरत मिल जाने पर हुई अचानक चुदाई की सेक्स कहानियाँ हिंदी में

किसी अन्जान अचानक मिले व्यक्ति से यौन सम्बन्ध की हिन्दी सेक्स कहानी

Hindi Sex Stories About Sex with unacquainted/unknown

अब दिल क्या करे-1

Ab Dil Kya Kare- Part1 प्रेषक : राज कार्तिक क्या करे बेचारा दिल जब कोई हसीना अपने हुस्न के ऐसे जलवे दिखाए कि आदमी बेचारा अपना लंगोट ढीला करने को मजबूर हो जाए ! आज के समाज में अक्सर मर्द को दोषी घोषित कर दिया जाता है पर मेरा यह …

Read More »

हुई चौड़ी चने के खेत में -5

Hui Chaudi Chane Ke khet mein-5 प्रेषिका : स्लिमसीमा (सीमा भारद्वाज) चौथे भाग :-  हुई चौड़ी चने के खेत में -4  से आगे : ‘अरे मेरी सोन-चिड़ी ! मेरी रामकली ! एक बार इसका मज़ा लेकर तो देखो तुम तो इस्सस… कर उठोगी और कहोगी वंस मोर… वंस मोर…?’ ‘अरे मेरे …

Read More »

हुई चौड़ी चने के खेत में -4

Hui Chaudi Chane Ke khet mein-4 लेखक : प्रेम गुरु प्रेषिका : स्लिमसीमा (सीमा भारद्वाज) तीसरे भाग :- हुई चौड़ी चने के खेत में -3   से आगे : ‘भौजी…चलो कमरे में चलते हैं !’ ‘वो..वो…क.. कम्मो…?’ मैं तो कुछ बोल ही नहीं पा रही थी। ‘ओह.. तुम उसकी चिंता मत करो …

Read More »

जवानी चार दिनों की-3

Jawani Char Dino Ki-3 लेखक : राज कार्तिक मेरी पिछली कहानी :-  जवानी चार दिनों की-1 चौकीदार के जाते ही मैंने दरवाजा अंदर से बंद किया और पकड़ कर पायल को अपनी बाहों में भर लिया। “बहुत बेताब हो मुझे चोदने के लिए…?” पायल के मुख से यह ‘चोदना’ शब्द सुन …

Read More »

हुई चौड़ी चने के खेत में -3

Chaudi Hui Chane Ke khet mein-3 लेखक : प्रेम गुरु प्रेषिका : स्लिमसीमा (सीमा भारद्वाज) दूसरे भाग :-  हुई चौड़ी चने के खेत में -2  से आगे : ‘ओ म्हारी माँ… मैं… मर गई री ईईईइ…’ और उसके साथ ही उसने 5-6 धक्के जोर जोर से लगा दिए। मंगला के पैर …

Read More »

जवानी चार दिनों की-2

Jawani Char Dino Ki-2 लेखक : राज कार्तिक मेरी पिछली कहानी :-  जवानी चार दिनों की-1 “लगता है तुम्हें भी ठण्ड लग रही है…!” वो मेरे कान में फुसफुसाई और बिना मुझसे पूछे ही उसने अपनी शाल मुझ पर भी ओढ़ा दी। मैंने हाथ बढ़ा कर अपना हाथ उसके हाथ पर …

Read More »

हुई चौड़ी चने के खेत में -2

Hui Chaudi Chane Ke khet mein-2 लेखक : प्रेम गुरु प्रेषिका : स्लिमसीमा (सीमा भारद्वाज) प्रथम भाग:-  हुई चौड़ी चने के खेत में -1  से आगे : “क्या उसने तुम्हारी कभी ग… गां… मेरा मतलब है…!” मैं कहते कहते थोड़ा रुक गई। “हाँ जी ! कई बार मारते हैं।” “क्या तुम्हें …

Read More »

जवानी चार दिनों की-1

Jawani Char Dino Ki-1 दोस्तो, मैं राज एक बार फिर से आपके पास अपनी मस्ती की दास्ताँ लेकर आया हूँ। कहानी ज्यादा पुरानी नहीं है। जैसे भगवान पहले छप्पर फाड़ कर देता था इस बार भी दिया। कहानी की शुरुआत तब हुई जब मैं अपने एक दोस्त की शादी में …

Read More »

हुई चौड़ी चने के खेत में -1

Hui Chuadi Chane Ke Khet Mein-1 लेखक : प्रेम गुरु प्रेषिका : स्लिमसीमा (सीमा भारद्वाज) चोदन चोदन सब करें, चोद सके न कोय, कबीर जब चोदन चले लण्ड खड़ा न होय …. ….. प्रेम गुरु की याद में प्रिय पाठकों और पाठिकाओ ! मैं (सीमा भारद्वाज) भी आप सभी की …

Read More »

सावन में मस्ती..

Saawan Me Masti प्रिय मित्रो.. मेरा नाम लक्ष्मी है, मैं दिल्ली में रहती हूँ, अभी कुछ महीने पहले ही मैंने पहली बार चुदाई का मज़ा लिया है। अन्तर्वासना पर कहानियाँ पढ़ती थी तो आज दिल किया की दूसरों की चुदाई की कहानी पढ़ने में जब इतना मज़ा आता है तो …

Read More »

मेरी चालू बीवी-84

Meri Chalu Biwi-84 सम्पादक – इमरान मेरी कहानी का पिछला भाग :  मेरी चालू बीवी-83 गुड्डू के चेहरे पर एक कातिलाना मुस्कुराहट थी, उसको मेरी सारी स्थिति का पता था और वो इसका पूरा मजा ले रही थी। मेरे लिए इतना ही काफी था कि यह खूबसूरत मछली अब मेरे जाल …

Read More »

बहकती रात..

Bahakati Raat लेखक : राज कार्तिक दोस्तो… आप का प्यार हर बार मुझे अपनी जिंदगी के हसीन लम्हें आपसे बाँटने को बेचैन कर देता है। मेरी हर कहानी को आप सबका बहुत प्यार मिलता है। कुछ दिन बीतते ही नयी कहानी नया किस्सा आप सबसे बाँटने को दिल मचल उठता …

Read More »

दुनिया की तो माँ की चू…!

Duniya Ki To Maa Ki Chu…! दोस्तो, आज मैं आपके सामने एक ऐसी कहानी पेश करूंगा, जिसे पढ़ कर आप भी सोचेंगे के इंसान के मन में कब क्या चल रहा होता है, इसका कोई भी अंदाज़ा नहीं लगा सकता। मेरा नाम सुकुमार है, मैं दिल्ली में रहता हूँ, बात …

Read More »

मेरी चालू बीवी-83

Meri Chalu Biwi-83 इमरान मेरी कहानी का पिछला भाग :  मेरी चालू बीवी-82 अपने ख्यालों में खोया हुआ मैं ऑफिस जा रहा था… एक बहुत ही गर्म दिन की शुरुआत हुई थी और लण्ड इतनी चुदाई के बाद भी अकड़ा पड़ा था। इस साले को तो जितना माल मिल रहा था, …

Read More »

तन का सुख-2

Tan Ka Sukh-Part2 इस कहानी का पिछला भाग :- तन का सुख-1 तभी कमल ने सुधा को जाने को कहा और मुझे बोला- यहीं सो जाओ ! तो मुझसे पहले ही सुधा बोल पड़ी- इनके सोने का इंतजाम ऊपर वाले कमरे में किया हुआ है पहले से ही। कमल के कमरे …

Read More »

तन का सुख-1

Tan Ka Sukh-Part1 यह कहानी मैं आप सब दोस्तों की मांग पर लिख रहा हूँ। यह खूबसूरत हादसा मेरे एक मित्र के साथ हुआ था। उसने अपनी कहानी मुझे बताई और अन्तर्वासना पर भेजने के लिए कहा। पर वो अपना नाम नहीं डालना चाहता था तो मैंने यह कहानी अपने …

Read More »

तड़पती जवानी नीलिमा की

Neelima Ki Tadapti Jwani तड़पती जवानी नीलिमा नाम है उसका। बहुत ही खूबसूरत जैसे कोई अप्सरा ! शरीर का एक एक अंग जैसे किसी सांचे में ढाला गया हो। जो एक बार देखे तो बस उसी का होकर रह जाए। गोरा-चिट्टा रंग, लम्बा कद, दिल को हिला देने वाली मस्त …

Read More »

पुरानी शराब का नशा

Puraanee Sharaab Ka Nasha रंगीन और मस्त जिंदगी की ख्वाहिश हर इंसान करता है पर सबके नसीब में मस्ती से जीना नहीं होता। यह अलग बात है कि जिंदगी में कम से कम एक बार कुछ हसीन पल जरूर आते हैं जिन्हें अगर जी लिया जाए तो तमाम जिंदगी उन …

Read More »

मेरी बिगड़ी हुई चाल

Meri Bigdi Hui Chaal कोमल की कोमल चूत की तरफ से आपको नमस्ते। मैं आपको बता दूँ कि मैंने शादी के बाद अपने पति के अलावा पहली बार अपने एन आर आई बुढे आशिक से अपनी चूत चुदवाई थी। यह घटना इस कहानी के रूप में अन्तर्वासना पर आई थी। …

Read More »

दोस्त ने खुद अपनी बीवी चुदवाई

Dost Ne Khud Apni Biwi Chudwai दोस्तो, आज आपके लिए पेश है एक बिल्कुल सच्ची कहानी। यह बात अभी दो महीने पहले की है। हमारे ग्रुप के ही दोस्त हरीश की शादी हुए अभी 4-5 महीने ही हुए थे, बाकी हम सब अभी कुँवारे थे, मतलब कुँवारे तो नहीं थे …

Read More »