Home / भाई बहन / बड़ी बहन की कुंवारी चूत चोदने की ललक -1

बड़ी बहन की कुंवारी चूत चोदने की ललक -1

Badi Bahan Ki Kunvari Chut Chodne Ki Lalak-Part 1

दोस्तो, कैसे है आप!
वैसे तो मुझे पता है आप सब मस्त होंगे क्यूंकि अन्तर्वासना पर चोदन कहानी पढ़ कर अच्छे अच्छे मस्त हो जाते हैं, बहुत मस्त कहानियाँ होती हैं ना अन्तर्वासना पर।

आज की कहानी मेरी पिछली कहानी का ही सिक्वल है। पिछली कहानी
छोटी बहन की कुंवारी चूत चोदने की ललक
में आपने पढ़ा कि कैसे रोहन ने अपनी छोटी बहन पायल को उत्तेजित किया और फिर उसकी चूत को अपने लंड की रानी बनाया। विस्तार के लिए मेरी पिछली कहानी पढ़ें।

फिर भी आपको याद दिलाने के लिए मैं कहानी के मुख्य पात्रों का एक बार फिर से परिचय करवा देता हूँ।
इस कहानी का नायक है एक पच्चीस साल का नौजवान रोहन, उसके घर में उसके मम्मी पापा, और दो मस्त खूबसूरत बदन की मालिक दो जवान बहनें।

पापा बिज़नस करते हैं, सुबह घर से जाते हैं और रात को देर से ही घर लौटते हैं, अक्सर बिज़नस के सिलसिले में बाहर भी जाते रहते हैं।
रोहन की मम्मी 45-46 साल की एक खूबसूरत घरेलू महिला है। सारा दिन बस घर के काम में व्यस्त रहती है। दो बहनें, बड़ी सोनम जो करीब इक्कीस साल की खूबसूरत जवान लड़की है और छोटी पायल जो करीब उन्नीस बीस साल की है।
रोहन की बहनें इतनी मस्त खूबसूरत थी कि पूरी कॉलोनी के लड़के लाइन में खड़े रहते थे उनके हुस्न का दीदार करने के लिए।
पर घर के संस्कार कुछ समय पहले तक अच्छे थे तो दोनों बहनें अपने तक ही सीमित रहती थी।

अब आप सोच रहे होंगे कि कुछ समय पहले तक का क्या मतलब हुआ?
तो मैं आपको बता दूँ कि कॉलोनी के लड़कों की तरह ही रोहन भी अपनी बहनों की खूबसूरती का दीवाना था और इसी दीवानगी में उसने अपनी छोटी बहन पायल को उत्तेजित किया और फिर एक दिन मौका मिलते ही उसकी कुंवारी चूत अपने लंड के नाम कर ली।

तब से रोहन और पायल की मस्ती जोरों से चल रही थी।
पर आज की कहानी रोहन और सोनम के बीच हुई चुदाई की है।

रोहन को तीन महीने हो चुके थे पायल की चूत चोदते हुए… सब कुछ भूल कर रोहन और पायल चुदाई का आनन्द ले रहे थे।
पर कहते हैं ना इश्क और मुश्क (खुशबू) छिपाए नहीं छिपते।
सोनम को रोहन और पायल पर शक होने लगा था। इस बात का अंदाजा रोहन और पायल दोनों को हो चुका था, अब पायल रात को चुदने के लिए रोहन के कमरे में जाने से डरने लगी थी।

एक दिन पायल ने रोहन से इस बारे में बात की- भाई… पता नहीं क्यों पर आजकल मुझे सोनम दीदी से डर सा लगने लगा है!
‘क्यों.. ऐसा क्या हो गया?’
‘भाई.. जब ही तुम और मैं साथ में होते हैं तो सोनम दीदी अजीब सी नजरों से देखती है… मुझे तो लगता है कि उन्हें हम पर शक हो गया है!’
‘हाँ… कभी कभी लगता तो मुझे भी है।’

‘कुछ सोचो भाई… अगर दीदी को पता लग गया तो वो मम्मी को बता सकती है और अगर मम्मी को पता लग गया तो समझ लो हम दोनों तो गए काम से..’
‘मेरी रानी… बात तो सही है पर किया क्या जाए? बाहर जाकर भी चुदाई करना सुरक्षित नहीं है और घर में सोनम और मम्मी का डर!’

‘कुछ तो करना पड़ेगा ना भाई… तुमने मुझे तो लत भी ऐसी लगा दी है कि चुदाई बिना तो मैं रह ही नहीं पाती हूँ।’
‘एक तरीका है… पर है थोड़ा मुश्किल और खतरनाक भी!’
‘क्या तरीका है बताओ तो ज़रा?’

‘क्यों ना हम सोनम को भी अपने चुदाई के खेल में शामिल कर लें? एक बार अगर वो चुद गई तो फिर वो कभी कुछ नहीं बोलेगी… पर खतरा यह है कि अगर वो नहीं मानी तो समझो की हम अपने पाँव पर खुद कुल्हाड़ी मार लेंगे ‘
‘ये तो है भाई… पर कुछ ना कुछ तो करना ही पड़ेगा.. वैसे एक बात तो है जब तुम मुझे अपने जाल में फंसा कर चोद सकते हो तो सोनम को चोदते हुए तुम्हारी गांड क्यों फट रही है?’

‘चलो कोशिश करके देखते है… शायद काम बन ही जाए..’
दोनों ने मन बनाया कि रोहन सोनम को उत्तेजित करने की कोशिश करेगा और पायल सोनम के अन्दर वासना की आग, कामुकता को बढ़ाने का काम करेगी ताकि सोनम भी चुदने को तैयार हो जाए।

रोहन ने वही पुराना तरीका आजमाने की सोची और उसने अनजान नंबर से सोनम के whatsapp पर भाई बहन की चुदाई की कहानियाँ भेज दी।
उस समय पायल और सोनम साथ साथ बैठी थी, सोनम ने वो कहानी देखी और थोड़ी सी पढने के बाद छी.. कह कर डिलीट कर दी। पायल का दिल धक् हुआ कि शायद सोनम पर यह तरीका काम नहीं करेगा।

पर वासना अच्छे अच्छे का दिमाग हिला देती है तो सोनम क्या चीज थी।
जब रोहन को पता लगा कि सोनम ने वो कहानियाँ डिलीट कर दी है तो एक बार तो वो भी परेशान हुआ पर उसने हिम्मत करके फिर से दो तीन कहानियाँ भेज दी।

दुबारा कहानियाँ देख कर सोनम गुस्से से लाल हो गई और भेजने वाले को गालियाँ देने लगी।
पायल ने पूछा- क्या हुआ?
तो बोली- कोई कमीना गन्दी गन्दी कहानियाँ भेज रहा है।
‘ऐसा क्या है इन कहानियों में…?’ पायल ने कुरेदते हुए पूछा।

‘गन्दी कहानियाँ है यार… भाई बहन के साथ सेक्स कर रहा है… ऐसा भी कही होता है क्या..’
‘ओह्ह्ह…’
‘अगर वो कमीना मुझे मिल जाए तो कमीने की टाँगें तुड़वा दूंगी रोहन को कह कर!’

सोनम की बात सुनकर पायल अपनी हँसी नहीं रोक पा रही थी क्यूंकि वो तो जानती ही थी कि वो कमीना और कोई नहीं, रोहन ही तो है।
‘पर तुम भाई को कहोगी क्या…’

सोनम कुछ नहीं बोली बस उठ कर अपने कमरे में चली गई।
कुछ देर बाद पायल के मन में आया कि देखें तो सही सोनम क्या कर रही है… कही वो कहानियाँ तो नहीं पढ़ रही है अकेले में?

पायल का शक सही था… सोनम अपने बेड पर लेती हुई whatsapp पर वही कहानियाँ पढ़ रही थी। पायल ने तुरन्त रोहन को फ़ोन करके बोला कि लोहा गर्म है।
रोहन ने फिर से सोनम को हेल्लो का मैसेज किया।

सोनम का कुछ देर बाद जवाब आया- तू कौन है कमीने और तेरी हिम्मत कैसे हुई मेरे पास ऐसी गन्दी गन्दी कहानियाँ भेजने की?
‘ओह्ह.. तुम्हे कैसे पता कि ये कहानियाँ गन्दी हैं… तुमने पढ़ ली क्या… वैसे कौन सी कहानी ज्यादा पसंद आई?’
‘कमीने मैं तेरा नंबर पुलिस में दे रही हूँ… तेरी ऐसी तैसी ना करवाई तो मेरा भी नाम सोनम नहीं…’
‘क्या बात है… बहुत खूबसूरत नाम है तुम्हारा… सोनम…’

‘तू है कौन…?’
‘मैं जो भी हूँ… बस इतना जानता हूँ… कि तुम जवान हो खूबसूरत हो… अब तुम्हारा दिल भी करता होगा चुदाई करवाने का…’
‘चुप कर कमीने…’
‘क्यों… तुम्हारी चूत में खुजली नहीं होती क्या… तुम्हारा मन नहीं करता क्या कि कोई आये और तुम्हारी जवानी को चुदाई करके और निखार दे..’

‘नही… मुझे ये सब बिलकुल भी पसंद नहीं है।’
‘क्या तुम जानती हो तुम्हारी छोटी बहन चुदाई का मज़ा ले चुकी है…’
‘झूठ.. तुम यह कैसे कह सकते हो?’
‘क्यूंकि उसने मेरे एक दोस्त से ही तो चुदवाया है पहली बार.. और अब तो लगभग हर रोज वो चुदवाती है…’

‘नाम बताओ उस दोस्त का..’
‘वो मैं नहीं बता सकता…’
‘नहीं बता सकते तो दफा हो जाओ.. और दुबारा मुझे मैसेज मत करना… समझे!’
यह कह कर सोनम ने अपने फ़ोन का नेट बंद कर दिया।

सोनम जिसको पायल पर पहले से ही शक था वो हैरान और परेशान थी कि क्या करे? उलझन अब बढ़ गई थी।

शाम को जब मम्मी सब्जी लेने बाज़ार गई तो सोनम ने पायल को अपने कमरे में बुलाया- पायल मुझे पता लग गया है कि तुम किसी लड़के के साथ सेक्स करती हो… क्या ये सच है?
पायल ने पहले तो झूठमूठ की घबराहट दिखाई और फिर सोनम के पास जाकर बोली- दीदी, वो मेरा एक बॉयफ्रेंड है, उसने एक बार जबरदस्ती मेरे साथ सेक्स किया था!

‘बस एक बार? झूठ मत बोल मुझे सब पता है कि तू लगभग हर रोज सेक्स करती है…’
‘सच है दीदी… वो एक बार सेक्स करने के बाद मैं अपने आप को रोक ही नहीं पाई, अब तो डेली सेक्स करने का मन करता है… क्या आप का नहीं करता?’
सोनम ने कोई जवाब नहीं दिया।

पायल सोनम के पास जाकर बैठ गई- मैं तो कहती हूँ दीदी की तुम भी एक बार चुदाई का मज़ा ले ही लो… सच में बहुत मज़ा आता है चुदवाने में..’
पायल का ऐसा बोलना था कि सोनम ने तपाक से एक थप्पड़ पायल के मुँह पर मार दिया।
पायल थप्पड़ खा कर तिलमिला उठी और गुस्से में बोली– मैं भी देखती हूँ कि कब तक तुम अपनी चूत संभाल कर रखती हो… चुदना तो है ही तुम्हें भी… नहीं तो इतनी मगन होकर चुदाई की कहानियाँ नहीं पढ़ रही होती अपने फ़ोन पर। मैंने सब देख लिया है… दिल तो तुम्हारा भी कर रहा है पर बड़ी बहन हो ना.. तो छोटी पर रौब तो दिखाना बनता ही है।

यह कह कर पायल कमरे से बाहर निकल गई।
माहौल तनाव पूर्ण था, पायल की फट रही थी कि कहीं सोनम मम्मी को ये सब ना बता दे।
फिर सोचा जो होगा देखा जाएगा।
कहानी जारी रहेगी।
Sharmarajesh96@gmail.com

Check Also

मौसी की चुदासी बेटी की चुदाई की कहानी-1

Mausi Ki Chudasi Beti Sang Chudai Ki Kahani Part-1 दोस्तो, मेरा नाम विराट सिंह है. …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *